ब्लॉग छत्तीसगढ़

14 June, 2008

हिन्दी ब्ला‍ग प्रवेशिका 2 : एड पेज एलीमेंट

ब्‍लाग बना लेने के बाद प्रत्‍येक ब्‍लागर्स चाहता है कि ब्‍लाग के हेडर, फूटर व साईड बार में चित्र, लिंक व टेक्‍स्‍ट आदि लगाये । इसके लिये ब्‍लागर्स डाट काम लेआउट पेज में एड पेज एलीमेंट (पृष्‍ट तत्‍व जोडें) की सुविधा प्रदान करता है । इसके द्वारा ब्‍लागर्स अपने ब्‍लाग को सजाते हुए आवश्‍यक लिंक, ब्‍लागरोल, गजट, फोटो आदि अपने ब्‍लाग में लगा सकते है । हम यहां संपूर्ण एड पेज एलीमेंट की जानकारी क्रमिक रूप से प्रस्‍तुत कर रहे हैं । इसके पूर्व हमने हिन्‍दी ब्‍लाग प्रवेशिका 1 मे न्‍यू पोस्‍ट पेज के अवयवों के संबंध में पूर्ण जानकारी प्रस्‍तुत कर चुके हैं ।

ब्‍लाग लेआडट हमारे ब्‍लाग के परदे के पीछे का हिस्‍सा है यहां आपके मौजूदा ब्‍लाग में जोडे जा सकने योग्‍य स्‍थान पर ही एड पेज एलीमेंट (पृष्‍ट तत्‍व जोडें) दर्शित होता है ।


जैसे ही हम डैशबोर्ड लेआउट में एड पेज एलीमेंट पृष्‍ट तत्‍व जोडें को क्लिक करते हैं एक नया विंडो खुलता है जिसे उपरोक्‍त चित्र में दिखाया गया है । इसमें विभिन्‍न प्रकार के 16 पृष्‍ट तत्‍वों का खाका आईकान के साथ उपलब्‍ध होता है । जैसे ही हम इस नये विंडो में उस तत्‍व के लिंक को क्लिक करते हें उसी विंडो में एक खाका खुलता है जिसमें दी गई आवश्‍यक जानकारी डालकर इसके नीचे तरफ दिये गये सेव या एड बटन को क्लिक कर सेव या एड करना होता है । इसके बाद वह तत्‍व आपके ब्‍लाग में जुड जाता है ।


1 ब्‍लाग लिस्‍ट : यह आपके मित्रों के ब्‍लाग का लिंक आपके ब्‍लाग में प्रस्‍तुत करता है । आप इसे क्लिक करें, उस विडों में अपने पसंद का कोई शीर्षक लिखें शार्ट आप्‍शन में माई रिसेंट अपडेट को ही रहने दें । इसके नीचे चार छोटे डिब्‍बे में टिकिंग आप्‍शन होगें जिसे आप अपनी सुविधानुसार सेट कर लेवें । नीचे के खाने में एड ए ब्‍लाग टू यूवर लिस्‍ट विकल्‍प को क्लिक कर अपने मित्र के ब्‍लाग का यूआरएल एड्रेस डालें व उसका शीर्षक लिखें, उसे सेव करें । इसी प्रकार आप अपने अधिकाधिक ब्‍लाग मित्रों के ब्‍लाग को लिंक के साथ अपने ब्‍लाग में जोड सकते हैं । ब्‍लागर्स डाट काम नें इसमें जो नई सुविधा प्रदान की है उसके अनुसार इसमें लिंक के साथ ब्‍लाग की ताजा प्रवृष्टियों का भी प्रदर्शन होता है । सारे यूआरएल एड कर लेने के बाद एड टू लिस्‍ट बठन को क्लिक करें ब्‍लाग लिस्‍ट आपके ब्‍लाग में एड हो जायेगा ।


2 स्‍लाईडशो : यह तत्‍व आपके पास उपलब्‍ध चित्रों या गूगल डिफाल्‍ट चित्रों को क्रमिक रूप से स्‍लाईड के रूप में अपने ब्‍लाग में प्रदर्शित करने का अच्‍छा माध्‍यम है इससे आपके बहुत सारे चित्र कम जगह घेरते हुए ब्‍लाग में प्रदर्शित हो सकते हैं । इसके लिये मेरा सुझाव यह है कि किसी फोटो साईट से स्‍लाईड शो बनाकर उसका कोड अपने ब्‍लाग में लगायें तो बेहतर होगा ।


3 पोल : अंग्रेजी ब्‍लागों में इस तत्‍व का बहुत ज्‍यादा प्रयोग होता है, चूंकि ब्‍लाग विचारों के आदान प्रदान का एक अच्‍छा माध्‍यम है इसलिये ब्‍लागर पाठकों के विचार पोल के माध्‍यम से प्राप्‍त करता है जिसका परिणाम ब्‍लाग में प्रदर्शित होता है । इससे पाठक व लेखक दोनों को वैचारिक रूझान प्राप्‍त होते हैं । हिन्‍दी ब्‍लागों में अभी इसका प्रचलन ज्‍यादा प्रभावी रूप प्रस्‍तुत नहीं कर पाया है ।


4 लिस्‍ट : यह ब्‍लाग में शव्‍दों के रूप में हाईपर लिंक युक्‍त शव्‍दों को प्रदर्शित करने का माध्‍यम है । इसमें एड लिस्‍ट आईटम में वर्ड कोटेशन लिख कर बाजू में ही दिये गये हाईपर लिंक आईकान को क्लिक कर उस शव्‍द से संबंधित लिंक यूआरएल पेस्‍ट कर एड करना होता है ब्‍लागर्स इसमें एक एक कर कई लिंक लगा सकते हैं एवं अपनी इच्‍छानुसार कितने लिंक को ब्‍लाग में प्रदर्शित करना है इसकी संख्‍या भी निर्धारित कर सकते हैं ।


5 लिंक लिस्‍ट : लिंक के समान ही इसमें यूआरएल डाल कर साईट नाम डालते हुए लिंक साईटों का लिस्‍ट बनाया जा सकता है ।


6 पिक्‍चर : इस विकल्‍प के द्वारा आप अपना पसंदीदा फोटो अपने ब्‍लाग के साईडबार में लगा सकते हैं । यहां फोटो लगाने के दो विकल्‍प हैं पहला अपने हार्ड डिस्‍क में सेव फोटो को अपलोड करने का एवं दूसरा फोटोबकेट जैसे फोटो वेवसाईट में पूर्व से अपलोड किसी फोटों को चयन करने का । ज्‍यादातर नये ब्‍लागरों के द्वारा पहले विकल्‍प का ही उपयोग किया जाता है । यानी ब्राउज के सहारे अपने हार्ड डिस्‍क में सेव फोटो को अपलोड करें, यदि आपका फोटो साईडबार की चौडाई से ज्‍यादा बडा है तो संकुचित करें बिन्‍दी को क्लिक करें यदि फोटो साईडबार की चौडाई से कम है तो संकुचित करें । बिंदी से मार्क क्लिक कर हटा लेवें । सेव करें । हेडर फूटर में फोटो लगाने संबंधी विवरण हम आगे के पोस्‍टों में प्रदान करेंगें ।


7 एड सेंस : यह विकल्‍प प्रारंभिक एड सेंस उपयोगकर्ता ब्‍लागर्स के लिये है । मेरे अनुसार से एड सेंस के लिये बेहतर विकल्‍प एड सेंस में पंजीयन करा कर लागईन होकर, पसंदीदा एड सेंस का चुनाव कर एचटीएमएल कोड प्राप्‍त करें एवं एचटीएमएल/जावा स्‍क्रीप्‍ट विकल्‍प में इसे पेस्‍ट करें ।


8 टेक्‍स्‍ट : इससे हम कोई कोटेशन अपने ब्‍लाग के स्थिर बारों में लगा सकते हैं । इसके चयन के बाद खुले विंडो में मनचाहा कोटेशन डाले और सेव करें । यहां आप अपने शव्‍दों को रंगीन भी कर सकते हैं इसके साथ ही किसी शव्‍द या शव्‍द समूह को हाईपर लिंक भी कर सकते हैं । हाईपर लिंक लगाने के लिए पहले इसी विंडो में लिखे गये शव्‍द को माउस से सलेक्‍ट करें फिर इस विंडो के उपर दिये गये हाईपर लिंक आईकान को क्लिक करें यहां एक छोटा सब विंडो ओपन होगा । जिसमें यूआरएल को पेस्‍ट करें । कार्य पूर्ण करने के बाद सेव करें ।


9 एचटीएमएल / जावा स्क्रिप्‍ट : ब्‍लागर्स डाट काम के द्वारा प्रदान किया गया यह एक महत्‍वपूर्ण पेज एलीमेंट है । ब्‍लागर्स इसके द्वारा एचटीएमएल / जावा स्‍क्रीप्‍ट कोडों को अपने ब्‍लाग में डाल कर उनके प्रभाव को प्रदर्शित करता है । ब्‍लागर्स की भाषा में जहां भी कोड शव्‍द का प्रयोग होता है उसका अभिप्राय एचटीएमएल / जावा स्‍क्रीप्‍ट कोड से होता है । एड न्‍यू पेज एलीमेंट विंडों में इस विकल्‍प को चयन करने पर जो विंडो खुलता है उसमें दिये गये खाने पर एचटीएमएल / जावा स्‍क्रीप्‍ट कोड डाले जाते हैं जो या तो हम स्‍वये बनाते हैं या किसी वेबसाईट से प्राप्‍त कोड होता है । फीड एग्रीगेटर, फीड बर्नर, हिट काउंटर व गूगल एड से प्राप्‍त कोडों को यहीं डालना होता है । इन कोडों में चित्र व शव्‍द सन्निहित होते हैं जो इस विंडो को सेव करने पर ब्‍लाग में प्रदर्शित होते हैं । इस विंडो में रिच टैक्‍स्‍ट पूर्वदर्शन का विकल्‍प भी मौजूद रहता है ।


10 फीड : अपने ब्‍लाग में प्रवृष्‍ट किये गये सामाग्री को पाठक तक पहुचाने का यह एक सशक्‍त माध्‍यम है इसके सहारे पाठक को ब्‍लाग की सामाग्री ई मेल के द्वारा एवं एग्रीगेटरों को फीड के द्वारा प्राप्‍त होती है । मेरा सुझाव यह है कि ब्‍लागर्स फीडबर्नर की सदस्‍यता लेवें एवं यहां फीडबर्नर की फीड यूआरएल पेस्‍ट करें ।


12 लेबल : यह ब्‍लाग का अतिमहत्‍वपूर्ण तत्‍व है । यद्धपि यहां पर सिर्फ इसे ओपन कर इसमें दिये गये क्रम विकल्‍पों के चयन के बाद सेव बस करना होता है । इससे पोस्‍ट लेबल हमारे ब्‍लाग में विषय सूची के रूप में दर्शित होता है जिसे क्लिक कर पाठक आपके उस विषय से संबंधित पोस्‍ट तक पहुच सकते हैं ।


13 वीडियो बार : इससे गूगल वीडियो द्वारा उपलब्‍ध बार में तीन चार वीडियो प्रदर्शित होते हैं जो गूगल वीडियो साईट के लोकप्रिय वीडियो होते हैं । हिन्‍दी ब्‍लाग के लिये अभी इसकी विशेष उपयोगिता नहीं है । यदि आप अपने पसंद के वीडियो यहां लगाना चाहें तो अपने वीडियो यू ट्यूब जैसे किसी वीडियो अपलोडर साईट में अपलोड कर प्राप्‍त कोड को एचटीएमएल / जावा स्‍क्रीप्‍ट एलीमेंट में पेस्‍ट करें ।


14 लोगो : यह ब्‍लागर्स डाट काम के विभिन्‍न रंगों के लोगो को अपने ब्‍लाग में लगाने संबंधी विकल्‍प है ।


15 प्रोफाईल : प्रारंभिक तौर पर ब्‍लाग निर्माण के समय टेम्‍पलेट चयन के साथ ही यह तत्‍व स्‍वाभाविक रूप से ब्‍लाग में एड रहता है, यदि यह तत्‍व आपके ब्‍लाग में एड न हो तो इसे क्लिक कर एड कर लेवें ।


16 ब्‍लाग अचीव : यह तत्‍व ब्‍लाग के प्रवृष्ठियों को तिथि के अनुसार ब्‍लाग में प्रस्‍तुत करता है । सामान्‍यतया यह तत्‍व भी आरंभिक तौर पर एड रहता है फिर भी यदि यह तत्‍व एड न हो तो इसे क्लिक करें एवं दिन, सप्‍ताह, महीनों के इच्छित विकल्‍प को चुनें एवं इसी विंडों में इसके प्रभाव को देख कर सेव कर लेवें ।


उपरोक्‍त जानकारी के आधार पर पृष्‍ट तत्‍व जोडने की क्रिया पूर्ण करें एवं लेआडट पेज के व्‍यू ब्‍लाग को क्लिक कर अपना ब्‍लाग देखें । अब आपके द्वारा जोडे गए तत्‍व आपके ब्‍लाग में दिख रहे हैं । यदि आप इन जोडे गये पृष्‍ट तत्‍वों को साईडबार, हेडर व फुटर में अपने इच्‍छानुसार उपर नीचे करना चाहें तो इसके लिये लेआउट में जाकर यह तय करें कि किस पृष्‍ट तत्‍व को कहां लगाना चाहते हैं फिर उस पृष्‍ट तत्‍व में माउस को ले जायें उसे सिंगल क्लिक करें, क्लिक बटन को दबाए हुए ही ड्रैग करते हुए माउस वहां ले जायें जहां आप इसे लगाना चाहते हैं यानी उपर या नीचे । आप देखेंगें कि जैसे ही वह तत्‍व वहां पहुंचेगा एक खाली स्‍थान बन जायेगा वहां ले जाकर माउस पर दबाव छोड दें । आपका पृष्‍ट तत्‍व आपके मनचाहे स्‍थान पर सेट हो गया । अब आप इस लेआउट में किये गये इस परिवर्तन को लेआउट पेज के उपर तरफ दिये गये सेव बटन को क्लिक कर सेव करें, पुन: ब्‍लाग देखें । आप ऐसा कर के अपने पृष्‍ट तत्‍वों को एक एक कर सजा सकते हैं ।


आशा है कि नये हिन्‍दी ब्‍लागर्स इससे लाभान्वित होंगें । यदि आपका सहयोग बना रहा तो हम आगामी पोस्‍टों में हिन्‍दी ब्‍लाग प्रवेशिका जारी रखेंगें ।

संजीव तिवारी

10 comments:

  1. बहुत उम्दा...आभार इस ज्ञान के लिए.

    ReplyDelete
  2. अच्छी जानकारी है बधाई

    ReplyDelete
  3. बहुत ही काम की जानकारी। साधुवाद।

    ReplyDelete
  4. हमारे जैसे नए जंतुओं के काम की बात आपने बताई ! धन्यवाद ।

    कृपया विषय से संबंधित तकनीकी जानकारी लगातार जारी रखें ।

    जिससे ये प्रजाति विकसित होती रहे |

    ReplyDelete
  5. shukriya jaankari ke liye ....

    ReplyDelete
  6. मेरे लिए तो बहुत फायेमंद साबित होगी आपकी ये पोस्ट.
    अभी तो जो कुछ भी परिवर्तन या जुगाड़ करना होता है ब्लाग पर वो मित्रों को बोल कर ही करवाता हूँ.
    अब शायद स्वयं कर सकूं.
    धन्यवाद.

    ReplyDelete
  7. bahut achcha kaam kar rahe hai kam se kam seekhane ko bahut kuch mil raha hai .abhaar

    ReplyDelete
  8. बहुत ही काम की जानकारी दी है यदि समय मिला तो इस पोस्ट की लिंक अपने ब्लोग कि किसी पोस्ट मे जरूर दूंगा।

    ReplyDelete
  9. sanjeev ji ,
    ali ji ke kahne par aapne mere blog par aakar itni gyanvardhak jankari dee hai ki man khush ho gaya aur ab koshish yahi rahegi ki main aapke blog se kabhi prathak na ho paoon.
    ek bar nahi hazar bar dhanyawad..

    ReplyDelete
  10. बहुत शानदार जानकारी के लिए धन्यवाद सर अगर हम अलग वेबसाईट से टेम्पलेट लेकर ब्लाँग पर लगाते है तो क्या उन्हे अपडेट करना जरूरी होता है मेरा मतलब उन टेम्पलेट का टाईम Out तो नही होता है ना ओर उनमेँ से Copyrigh शब्द को केसे निकाले या अपना स्वंय का केसे जोडे

    ReplyDelete

आपकी टिप्पणियों का स्वागत है. (टिप्पणियों के प्रकाशित होने में कुछ समय लग सकता है.) -संजीव तिवारी, दुर्ग (छ.ग.)

Popular Posts