ब्लॉग छत्तीसगढ़

06 August, 2008

लेख चोरों से अपने ब्‍लाग को बचायें

पिछले कई पोस्टों में आपने पढा होगा कि फलां ब्लागर्स की कविता फलां नें कापी कर अपने ब्लाग में पोस्ट किया या फलां नें ब्लाग पोस्ट को कापी कर फलां पत्रिका में अपने नाम से छपवा लिया ।

हम अपने जुगाडू तंत्र से कई दिनों से इसका हल ढूढने में लगे थे, हमारे मित्रों नें बतलाया था कि एचटीएमएल में कापी प्रोटेक्ट करने के भी कोड होते हैं, पर वह हमें मिल नहीं रहा था पिछले दिनों हमें नेट सर्च में इसके दर्शन हो गये और हमने इसका प्रयोग प्रथमत: अपने ही ब्लाग पर किया । इस कोड को स्थापित करने के बाद पोस्ट टेक्स्ट में कर्सर कापी कमांड को स्वीकार करने के लिए सलेक्ट ही नहीं होता जिससे टेक्स्ट कापी ही नहीं हो पाता और हमारा लेख कापी के पेस्ट के सहारे चोरी नहीं हो पायेगा ।

यदि आप भी इसे आजमाना चाहते हैं तो हम इसे क्रमिक रूप से आपके लिये प्रस्‍तुत कर रहे हैं :-

1 . ब्लागर्स में लागईन होंवें - लेआउट - एडिट एचटीएमएल

2. सुरक्षा के लिहाज से संपूर्ण डाउनलोड टैम्पलेट से डाटा सहेज लेवें ।

3. एचटीएमएल बाक्स में नीचे चित्र में दिये गये कोड को खोजें -
4. उस कोड को हटाकर नीचे चित्र में दिये गये संपूर्ण कोड को टाईप कर देवें ।

5. टेम्पलेट सेव करें और अपना ब्लाग देखें, टेक्स्ट कापी बैन हो गया है ।




संजीव तिवारी

21 comments:

  1. ढेरो शुक्रिया .....

    ReplyDelete
  2. thank you i will try to see and implement but i still want to know that suppose someone reads it thru feed or in the feed available on agreegators then what happens

    ReplyDelete
  3. "thanks for such important information"
    Regards

    ReplyDelete
  4. के जुगाड़ बताया है भाया. मान गये ...

    ReplyDelete
  5. bahut bahut dhanyavad... bahut achha lekh hai..
    par pata nahin kyu mujhse hua nahi :(

    ReplyDelete
  6. तिवारी जी आप दोवारा से यह कोड चेक कर के बातयेगे, मेरे यहा कोई गलती बता रहा हे,यानि हो नही रहा onmousedown=“मे कोई गलती बताता हे धन्यवाद

    ReplyDelete
  7. संजय जी धन्यवाद हम कामजाव हो ही गये,

    ReplyDelete
  8. ek garbar hai isme.. agar koi sidhe FEED se hi maal uthaaye to koi kuchh nahi kar sakta hai.. :)
    aur dusaraa agar koi aapke blog ke code part me jaakar vahan se COPY-PASTE kar le to?? :)

    dekhiye bhaai saahab.. maine isme loop hole nikal liya.. :)

    ReplyDelete
  9. Mujhe to aap ki har post copy karni thi, ab mera kya hoga. :(

    ReplyDelete
  10. भाई संजीव, हम तो समझते थे कि धमकी छाप देने से काम बन जायेगा. लेकिन ये वाली जानकारी तो बहुत बढ़िया रही.

    ReplyDelete
  11. पिछले कई पोस्टों में आपने पढा होगा कि फलां ब्लागर्स की कविता फलां नें कापी कर अपने ब्लाग में पोस्ट किया या फलां नें ब्लाग पोस्ट को कापी कर फलां पत्रिका में अपने नाम से छपवा लिया ।

    हम अपने जुगाडू तंत्र से कई दिनों से इसका हल ढूढने में लगे थे, हमारे मित्रों नें बतलाया था कि एचटीएमएल में कापी प्रोटेक्ट करने के भी कोड होते हैं, पर वह हमें मिल नहीं रहा था पिछले दिनों हमें नेट सर्च में इसके दर्शन हो गये और हमने इसका प्रयोग प्रथमत: अपने ही ब्लाग पर किया । इस कोड को स्थापित करने के बाद पोस्ट टेक्स्ट में कर्सर कापी कमांड को स्वीकार करने के लिए सलेक्ट ही नहीं होता जिससे टेक्स्ट कापी ही नहीं हो पाता और हमारा लेख कापी के पेस्ट के सहारे चोरी नहीं हो पायेगा ।

    यदि आप भी इसे आजमाना चाहते हैं तो हम इसे क्रमिक रूप से आपके लिये प्रस्तुत कर रहे हैं :-

    1 . ब्लागर्स में लागईन होंवें - लेआउट - एडिट एचटीएमएल

    2. सुरक्षा के लिहाज से संपूर्ण डाउनलोड टैम्पलेट से डाटा सहेज लेवें ।

    3. एचटीएमएल बाक्स में नीचे चित्र में दिये गये कोड को खोजें -

    4. उस कोड को हटाकर नीचे चित्र में दिये गये संपूर्ण कोड को टाईप कर देवें ।


    5. टेम्पलेट सेव करें और अपना ब्लाग देखें, टेक्स्ट कापी बैन हो गया है ।




    संजीव तिवारी

    ReplyDelete
  12. हम फिर भी इस को कॉपी करके बता दें तो...? अरे चंडिकाजी ने तो बता भी दिया।
    हमारे राजस्थान में कहते हैं कि ताले साहूकारों के लिये होते हैं चोरों के लिये नहीं :)

    ReplyDelete
  13. जानकारी अच्छी दी है पर मुझसे यह हुआ नहीं। फिर भी आभार।

    ReplyDelete

  14. संजीव जी,

    इस तरह की कोई भी जुगाड़ पूरी तरह कामयाब नहीं हो सकती है.
    जब हम किसी वेब पेज को पढ़ते हैं तो वह हमारे कंप्यूटर पर पहले ही कॉपी हो चुका होता है.
    कंट्रोल+C आदि जैसे कॉपी कमांड काम न भी करें तो ब्राउजर की "सेव एज" आप्शन पेज को सेव कर लेगी. उसके बाद आप उस कंटेंट का जो चाहे करें.

    आपको निराश नहीं करना चाहता मगर खामोखायाली में रहना ठीक नहीं है.

    ReplyDelete
  15. लेख चोरों से अपने ब्‍लाग को बचायें
    पिछले कई पोस्टों में आपने पढा होगा कि फलां ब्लागर्स की कविता फलां नें कापी कर
    अपने ब्लाग में पोस्ट किया या फलां नें ब्लाग पोस्ट को कापी कर फलां पत्रिका में
    अपने नाम से छपवा लिया ।

    हम अपने जुगाडू तंत्र से कई दिनों से इसका हल ढूढने में लगे थे, हमारे मित्रों नें
    बतलाया था कि एचटीएमएल में कापी प्रोटेक्ट करने के भी कोड होते हैं, पर वह हमें मिल
    नहीं रहा था पिछले दिनों हमें नेट सर्च में इसके दर्शन हो गये और हमने इसका प्रयोग
    प्रथमत: अपने ही ब्लाग पर किया । इस कोड को स्थापित करने के बाद पोस्ट टेक्स्ट में
    कर्सर कापी कमांड को स्वीकार करने के लिए सलेक्ट ही नहीं होता जिससे टेक्स्ट कापी
    ही नहीं हो पाता और हमारा लेख कापी के पेस्ट के सहारे चोरी नहीं हो पायेगा ।

    यदि आप भी इसे आजमाना चाहते हैं तो हम इसे क्रमिक रूप से आपके लिये प्रस्‍तुत कर
    रहे हैं :-

    1 . ब्लागर्स में लागईन होंवें - लेआउट - एडिट एचटीएमएल

    2. सुरक्षा के लिहाज से संपूर्ण डाउनलोड टैम्पलेट से डाटा सहेज लेवें ।

    3. एचटीएमएल बाक्स में नीचे चित्र में दिये गये कोड को खोजें -

    4. उस कोड को हटाकर नीचे चित्र में दिये गये संपूर्ण कोड को टाईप कर देवें ।



    5. टेम्पलेट सेव करें और अपना ब्लाग देखें, टेक्स्ट कापी बैन हो गया है ।




    संजीव तिवारी

    @ सर्वाधिकार सुरक्षित छत्तीसगढिया .. Sanjeeva Tiwari के स्‍वत्‍वधिकार में 12:16
    PM

    ReplyDelete
  16. मैने तो text file में save करके ऐसा कर दिया. पर पहली नजर में तो भा गया ये उपाय.

    ReplyDelete
  17. आप सभी का इस पोस्‍ट पर टिप्‍पणी करने के लिए बहुत बहुत धन्‍यवाद ।


    ये सत्‍य है कि यह पूर्ण कारगर उपाय नहीं है । चोरी और हैकिंग जैसे कार्य तो विश्‍व के अभेध्‍य समझे जाने वाले साईटों पर भी हुए हैं, किन्‍तु मेरा मानना है कि त्‍वरित रूप में तकनीकि के कम जानकारी वालों के कापी पेस्‍ट से यह रक्षा करती है ।

    चोरी और हैकिंग जैसे कार्य तो विश्‍व के अभेध्‍य समझे जाने वाले साईटों पर भी हुए हैं ।

    ReplyDelete
  18. बहुत ही काम की जानकारी.
    धन्यवाद.

    ReplyDelete
  19. अच्छी जानकारी दी हैं पर हमारे ब्लाग पर आइये और जो माल चाहे ले जायें। हमें खुशी होगी जब आप हमारा माल अपने ब्लाग पर लगायेंगे।

    ReplyDelete
  20. sanjeev jee , aapka ye tareeka kaam nahi kar raha hai, maine aapke is lekh aur baanki lekh ko simply copy paste kar sakata hun ..

    ReplyDelete

आपकी टिप्पणियों का स्वागत है. (टिप्पणियों के प्रकाशित होने में कुछ समय लग सकता है.) -संजीव तिवारी, दुर्ग (छ.ग.)

loading...

Popular Posts