ब्लॉग छत्तीसगढ़

23 September, 2008

कैलीफोर्निया विश्‍वविद्यालय में छत्‍तीसगढ के नक्‍सल हिंसा पर एक विशेष सत्र

अमेरिका के कैलीफोर्निया विश्‍वविद्यालय में भारत के लोकतंत्र पर केन्द्रित दो दिन का सेमीनार आयोजित किया गया है जिसमें छत्‍तीसगढ की नक्‍सल हिंसा और उससे जुडे हुए सभी पहलुओं पर चर्चा के लिये एक विशेष सत्र रखा गया है । इस सेमीनार में पूरे देश से विभिन्‍न व्‍यक्तियों को वक्‍ता के रूप में आमंत्रित किया गया है जिसमें छत्‍तीसगढ के दो लोग शामिल हैं, इनमें एक प्रदेश के पुलिस महानिदेशक विश्‍वरंजन जी और लोकप्रिय समाचार पत्र छत्‍तीसगढ के संपादक सुनील कुमार जी हैं । इनका व्‍याख्‍यान भी वहां उक्‍त सत्र में होगा ।

इन दो वक्‍ताओं के अलावा दिल्‍ली की एक समाज शास्‍त्री और जन मुद्दों को लेकर अदालती लडाई लडने वाली प्राध्‍यापिका नंदिनी सुन्‍दर सर्वोच्‍च न्‍यायालय के एक सेवानिवृत न्‍यायाधीश बी.एन.श्रीकृष्‍णा भी वक्‍ता हैं । यह महत्‍वपूर्ण सेमीनार पिछले वर्ष से शुरू हुआ है और इसमें भारत के करीब एक दर्जन प्रमुख लोग वक्‍ता रहे हैं । जिनमें केन्‍द्रीय मंत्री, प्रमुख उद्योगपति, प्रमुख पत्रकार, सामाजिक कार्यकर्ता और सुप्रीम कोर्ट के प्रमुख वकील शामिल थे । पिछले वर्ष की तरह इस समय भी भारत के अलग अलग क्षेत्रों से लगभग एक दर्जन लोगों को वहां आमंत्रित किया गया हैं और इसके अलावा पूरी दुनिया से भारतीय लोकतंत्र में दिलचस्‍पी रखने वाले दर्जनों अन्‍य विद्वानों को भी इस सेमीनार में आमंत्रित किया गया है ।

6 comments:

  1. आभार जानकारी के लिए.

    ReplyDelete
  2. अच्छा भला नाम था। क्या किये हो भैया; बौद्ध हो गये हो क्या?

    ReplyDelete
  3. " interetsing artical to read, "

    Regards

    ReplyDelete
  4. sundar si jankari di aapne ki yahan ki kis tarah ki baton pe charcha bidesho me hoti hai..iske liye aabhar..........

    regards
    Arsh

    ReplyDelete
  5. अब अपनी बदनामी विदेश मे भी पहुंच गयी !

    ReplyDelete
  6. Samachar ke liye aapko dhnyavad.
    विश्‍वरंजन जी और सुनील कुमार जी ko shubhkamaye.n dijiyega.

    ReplyDelete

आपकी टिप्पणियों का स्वागत है. (टिप्पणियों के प्रकाशित होने में कुछ समय लग सकता है.) -संजीव तिवारी, दुर्ग (छ.ग.)

Popular Posts

23 September, 2008

कैलीफोर्निया विश्‍वविद्यालय में छत्‍तीसगढ के नक्‍सल हिंसा पर एक विशेष सत्र

अमेरिका के कैलीफोर्निया विश्‍वविद्यालय में भारत के लोकतंत्र पर केन्द्रित दो दिन का सेमीनार आयोजित किया गया है जिसमें छत्‍तीसगढ की नक्‍सल हिंसा और उससे जुडे हुए सभी पहलुओं पर चर्चा के लिये एक विशेष सत्र रखा गया है । इस सेमीनार में पूरे देश से विभिन्‍न व्‍यक्तियों को वक्‍ता के रूप में आमंत्रित किया गया है जिसमें छत्‍तीसगढ के दो लोग शामिल हैं, इनमें एक प्रदेश के पुलिस महानिदेशक विश्‍वरंजन जी और लोकप्रिय समाचार पत्र छत्‍तीसगढ के संपादक सुनील कुमार जी हैं । इनका व्‍याख्‍यान भी वहां उक्‍त सत्र में होगा ।

इन दो वक्‍ताओं के अलावा दिल्‍ली की एक समाज शास्‍त्री और जन मुद्दों को लेकर अदालती लडाई लडने वाली प्राध्‍यापिका नंदिनी सुन्‍दर सर्वोच्‍च न्‍यायालय के एक सेवानिवृत न्‍यायाधीश बी.एन.श्रीकृष्‍णा भी वक्‍ता हैं । यह महत्‍वपूर्ण सेमीनार पिछले वर्ष से शुरू हुआ है और इसमें भारत के करीब एक दर्जन प्रमुख लोग वक्‍ता रहे हैं । जिनमें केन्‍द्रीय मंत्री, प्रमुख उद्योगपति, प्रमुख पत्रकार, सामाजिक कार्यकर्ता और सुप्रीम कोर्ट के प्रमुख वकील शामिल थे । पिछले वर्ष की तरह इस समय भी भारत के अलग अलग क्षेत्रों से लगभग एक दर्जन लोगों को वहां आमंत्रित किया गया हैं और इसके अलावा पूरी दुनिया से भारतीय लोकतंत्र में दिलचस्‍पी रखने वाले दर्जनों अन्‍य विद्वानों को भी इस सेमीनार में आमंत्रित किया गया है ।
Disqus Comments